रुद्रप्रयाग

विधायक मनोज रावत की पहल आजादी के बाद से अभी तक शहीद हुए 30 वीर सैनिकों की लगाई जायेगी मूर्तियां

केदारनाथ विधायक मनोज रावत की पहल से आजादी के बाद से अभी तक शहीद हुए 30 वीर सैनिकों की मूर्तियां लगाई जा रही है, जिसका शुभारम्भ सेना मेडल प्राप्त राइफल मैन उमेश चन्द्र नौटियाल की मूर्ति के अनावरण के साथ किया गया। शहीदों के सम्मान में केदारनाथ विधायक मनोज रावत की अनूठी पहल के तहत अमर शहीद राइफल मैन उमेश नौटियाल (सेना मेडल) की मूर्ति का अनावरण ऊखीमठ तहसील के अन्तर्गत परकण्डी गांव के राइंका में किया गया। केदारनाथ विधायक द्वारा शहीद सैनिकों के सम्मान में उनकी मूर्तियों को उनके गांव के विद्यालयों में लगाया जा रहा है।
बता दें कि उमेश नौटियाल 36 आर आर/12 गढ़वाल राइफल में कार्यरत रहते हुए 1999 में आपरेशन रक्षक में देश रक्षा के लिए शहीद हुए थे। शहीद उमेश चन्द्र राइंका परकण्डी में मूर्ति के अनावरण समारोह में भारी संख्या में पूर्व सैनिकों, महिलाओं, छात्र छात्राओं एवं ग्रामीणों ने भाग लिया। इस दौरान शहीद राइफल मैन उमेश अमर रहे के नारे से पूरा क्षेत्र गुंजायमान रहा। राइंका परकण्डी में अनावरण समारोह के अवसर पर हुई सभा को सम्बोधित करते हुए केदारनाथ विधायक मनोज रावत ने कहा कि कहा कि शहीद उमेश के पिता पूर्व सैनिक स्वर्गीय घनानन्द नौटियाल की प्रेरणा से आज वे शहीदों की शहादत को अमर करने के लिए अपना छोटा सा योगदान दे पाये हैं। उनकी ही प्रेरणा से केदारनाथ विधानसभा में वे 30 अमर शहीदों की मूर्तियां विधायक निधि से लगवाने जा रहे है।


नई पीढ़ी को देशसेवा के लिए प्रेरित करने के लिए उनकी जन्मभूमि के विद्यालय में उनकी मूर्तियां लगाई जा रही हैं। यही नहीं ऐसे अनाम शहीदों की भी मूर्तियां लगाई जायेंगी, जिनके कोई भी वारिस आज मौजूद न हो। कहा कि विपक्षी दल शहीदांे के सम्मान के चाहे लाख दावे करे परन्तु उनके द्वारा शहीदों की मूर्तियां लगाने के कार्य से वे बौंखला गये हैं। इसीलिए हमारे लाख निवेदन के बावजूद न तो इस कार्यक्रम में सेना का बैण्ड आया और न ही सैनिक कल्याण बोर्ड का कोई अधिकारी। यह सत्ताधारी दल की बौखलाहट नहीं तो और क्या है। इससे पूर्व केदारनाथ विधायक मनोज रावत ने शहीद उमेश की माता पार्वती देवी एवं उनके परिजनों के साथ राइंका के परिसर में विधि विधान से शहीद की मूर्ति का अनावरण किया। इस दौरान पूरा परिसर शहीद उमेश अमर रहे के नारों से गूंजता रहा। कार्यक्रम में शहीद केे भाई दिनेश, सुबोध, योगेश तथा बहिन गीता अपने परिवार के साथ मौजूद रहे। कार्यक्रम में राइंका परकण्डी की छात्राओं ने सरस्वती वन्दना एवं स्वागत गीत गाया। विधायक ने कार्यक्रम के दौरान आस-पास की ग्राम पंचायतों की महिला मंगल दलों के सदस्यों को सम्मानित भी किया।

Add Comment

Click here to post a comment

Featured

error: Content is protected !!