उत्तराखण्ड रुद्रप्रयाग

दस वर्षों तक अगस्त्यमुनि ब्लॉक के खण्ड शिक्षा अधिकारी रहे केएल रड़वाल अपनी सरकारी सेवा की अधिवर्षता पूर्ण कर सेवानिवृत

लगातार दस वर्षों तक अगस्त्यमुनि ब्लॉक के खण्ड शिक्षा अधिकारी रहे केएल रड़वाल अपनी सरकारी सेवा की अधिवर्षता पूर्ण कर सेवानिवृत हो गये हैं। उनकी सेवा निवृत होने पर विभिन्न शिक्षक संगठनों, मिनिस्ट्रियल एसोसियेशनों, जनप्रतिनिधियों तथा सामाजिक सरोकारों से जुड़े व्यक्तियों ने उन्हें भावभीनी विदाई दी। उनकी सादगी एवं कार्यकुशलता का हर कोई मुरीद था। अगस्त्यमुनि में गणतन्त्र दिवस के कार्यक्रमों को खेल मैदान में सार्वजनिक रूप से एक साथ मनाने की अभिनव पहल के लिए उन्हें हमेशा याद किया जाता रहेगा। राप्रावि अगस्त्यमुनि में हुए विदाई समारोह में वक्ताओं ने उनसे जुड़े संस्मरणों को याद करते हुए उनकी सरलता एवं कार्यकुशलता की सराहना करते हुए उनके उत्तम स्वास्थ्य एवं दीर्घायु की कामना के साथ भविष्य के लिए शुभकामनायें दी। विदाई समारोह में उपस्थित केदारनाथ विधायक मनोज रावत ने उनकी सादगी के साथ ही क्षेत्र के विद्यालयों, शिक्षकों एवं विद्यार्थियों की समस्याओं पर हरदम नजर रखने तथा उनके समाधान के लिए किए गये कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि विगत पांच वर्षों में कोई भी क्षण ऐसा नहीं आया कि रड़वाल जी से किसी कार्य को लेकर बहस हुई हो। डायट रतूड़ा के प्राचार्य विनोद सेमल्टी ने अपने संस्मरण साझा करते हुए कहा कि उत्तरकाशी जनपद के चिन्यालीसैण का विद्यालय आज भी आपकी नेतृत्व क्षमता एवं कार्य कुशलता को याद करता है। पूर्व संयुक्त शिक्षा निदेशक रमेश प्रसाद चमोला ने कहा कि उन्हें याद नहीं कि किसी अधिकारी की सेवा निवृति पर हुए कार्यक्रम में समाज के हर क्षेत्र के लोग इतनी बड़ी संख्या में उपस्थित रहे हों। यह रड़वाल जी की कार्यप्रणाली की स्वीकार्यता को प्रदर्शित करता है। जिपंअ अमरदेई शाह ने कहा कि अधिकारी की कार्यकुशलता उनके स्थानान्तरण या सेवा निवृत होने पर उपस्थित जन समुदाय से पता चलता है कि वह क्षेत्र में कितना लोकप्रिय है। नपं अध्यक्ष अरूणा बेंजवाल ने कहा कि इतने लम्बे समय तक एक ही स्थान पर रहकर निर्विवाद रूप से अपनी सेवा से सभी को सन्तुष्ट करना हर किसी के लिए सम्भव नहीं होता है। परन्तु रड़वाल जी ने ऐसा करके दिखाया है।

राशिसं के जिलाध्यक्ष आनन्द जगवाण, प्राशिसं के जिलाध्यक्ष विक्रम झिंक्वाण तथा एजुकेशनल मिनिस्ट्रियल एसोसियेशन के जिला संरक्षक नरेन्द्र नेगी ने कहा कि अपने अधीनस्थ कर्मचारियों से कार्य कराने तथा जनप्रतिनिधियों की शिकायत को हमेशा हंसकर समाधान करना आपकी विशेषता रही है। वहीं सेवा निवृत होने पर श्री रड़वाल ने दस वर्षों के कार्यकाल के दौरान सदा सहयोग देने के लिए अधीनस्थ कर्मचारियों, शिक्षकों तथा जनप्रतिनिधियों का आभार जताया। कार्यक्रम को प्रभारी बीईओ एसएस रावत, प्रभारी उपशिक्षा अधिकारी शिवलाल, नरेश भट्ट आदि ने भी सम्बोधित किया। संचालन कुलदीप भण्डारी ने किया। इस अवसर पर जिपंस कुलदीप कण्डारी, बीकेटीसी के सदस्य शिवसिंह रावत, पूर्व जिपंस दीपा देवी, नाकोट के सरपंच हर्षवर्धन बेंजवाल, राबाइका की प्रधानाचार्या रागनी नेगी, कुसुम भट्ट ललिता रौतेला, सुधीर बर्त्वाल, गजेन्द्र रौतेला, भानु प्रताप रावत, देवानन्द गैरोला, बीईओ केएल रड़वाल के पिता एमएल रड़वाल, पत्नी तथा परिवार के सदस्यों के साथ ही बीईओ तथा उपशिक्षा कार्यालय के समस्त कर्मचारियों के साथ बड़ी संख्या में शिक्षक, शिक्षिकायें, प्रधानाचार्य एवं प्रधानाध्यापक मौजूद रहे।

Featured

error: Content is protected !!