रुद्रप्रयाग

बर्फबारी के कारण चोपता-मंडल-बद्रीनाथ हाईवे चार दिनों से बंद,
बर्फ की चादरों के बीच कैद हुआ मिनी स्विट्जरलैंड चोपता

रुद्रप्रयाग। मिनी स्वीटजरलैंड कहे जाने वाले जिले के प्रसिद्ध पर्यटक स्थल चोपता में जमकर बर्फबारी हुई है। चोपता में चारों ओर सिर्फ बर्फ ही बर्फ है। स्थिति यह है चोपता के होटल-लाॅजों की छत पर भी बर्फ की मोटी परत जमी हुई है। चोपता-बद्रीनाथ हाईवे भी पूरी तरह बर्फ से ढ़क चुका है। चार दिनों से हाईवे पर वाहनों की आवाजाही ठप है। चोपता पहाडियां, होटल, लाॅज, पेड़-पौधें, सड़के सब बर्फ से ढ़क चुकी हैं। चोपता में तीन दिन के भीतर लगभग पांच फीट तक बर्फ गिरी है।
मिनी स्वीजरलैंड के रूप मंे फेमस पर्यटक स्थल चोपता पूरी तरह बर्फ से ढ़क गया है। चोपता की पहाडियां, होटल, लाॅज, पेड़-पौधे और सड़क पूरी तरह से बर्फ से ढक चुकी है। चोपता में चारो ओर नजर दौड़ाने पर सिर्फ बर्फ ही बर्फ दिखाई दे रही है। चोपता-बद्रीनाथ हाईवे बर्फबारी के कारण बंद पड़ा हुआ है।

चार दिनों से हाईवे पर आवाजाही ठप है। मक्कूबैंड से आगे वाहनों का संचालन नहीं हो पा रहा है। जिस कारण पर्यटक चोपता नहीं पहुंच पा रहे हैं। चोपता में स्थित होटल-लाॅजों की छत भी बर्फ की मोटी चादर से ढ़क गई हैं। अत्यधिक बर्फबारी के कारण चोपता में ठंड भी बढ़ गई है। इसके अलावा चोपता में पानी का संकट गहरा गया है। चोपता में स्थित सभी पेयजल लाइनें बर्फ के कारण क्षतिग्रस्त हो गई हैं और ठंड में जम गई हैं। जनवरी महीने में चोपता में तीन बार बर्फ गिर चुकी है। चोपता-बद्रीनाथ हाईवे बंद होने के कारण कई वाहन भी यहां फंसे हुये हैं।

Add Comment

Click here to post a comment

Featured

error: Content is protected !!