उत्तराखण्ड राजनीति रुद्रप्रयाग

भाजपा की नेत्री सरला खंडूरी की भाजपा में घर वापसी,
उक्रांद में कर रही थी टिकट की मांग,
नहीं मिला टिकट तो थाम लिया भाजपा का दामन

रुद्रप्रयाग। भाजपा में पूर्व में विभिन्न दायित्व पर रही सरला खंडूरी की पुनः घर वापसी हो गई है। महिला नेत्री 6 माह पूर्व उत्तराखंड क्रांतिदल में शामिल हुई थी। शनिवार को रुद्रप्रयाग विधायक भरत सिंह चैधरी के नेतृत्व उन्होंने पुनः भाजपा में वापसी की है। इस मौके पर उन्होंने यूकेडी पर आरोप लगाते हुए कहा की वहां न कोई संगठन है और ना ही उनके पास कोई विजन है। और ना ही महिलाओं का सम्मान है।
यूकेडी की प्रदेश में स्थिति बहुत ही खराब है। उनके पास न नेता हैं न उनके साथ जनता है। ऐसे में वे पुनः अपने मूल भारतीय जनता पार्टी में वापसी कर रही हंै। आगे चुनाव में पूरी सामथ्र्य के साथ भाजपा प्रत्याशी को जिताने के लिए कार्य करेंगी। खंडूरी के भाजपा में वापसी होने पर विधायक भरत चैधरी ने कहा कि उनको पहले जैसा सम्मान भाजपा में मिलेगा। भाजपा में हमेशा ही महिलाओं का उचित मान और सम्मान मिला है और आगे भी मिलता रहेगा। खण्डूड़ी के भाजपा में आने ने पार्टी को मजबूती मिलेगी। इस मौके पर नगर मंडल अध्यक्ष सुरेन्द्र रावत, अजय सेमवाल, सुनील नौटियाल, सुंदरमणी गोस्वामी, भूपेन्द्र विष्ट, सुरेन्द्र बिष्ट आदि मौजूद थे। वहीं भाजपा में शामिल हुई महिला नेत्री सरला खण्डूड़ी उक्रंाद से रुद्रप्रयाग विधानसभा टिकट को लेकर पार्टी पर दबाव बना रही थी, लेकिन जनता में उनकी पकड़ न होने के कारण पार्टी उन्हें टिकट देने के मूड में नहीं थी। जैसे ही उक्रांद ने रुद्रप्रयाग विधानसभा से युवा मोहित डिमरी को टिकट देने की घोषणा की तो उसके अगले ही क्षण उन्होंने पुनः भाजपा की सदस्यता ले ली। उनके भाजपा में शामिल होने से जहां उक्रंाद कार्यकर्ताओं में कोई गम नहीं देखा जा रहा है, वहीं भाजपा खुशी मना रही है। आने वाले दिनों में देखना होगा कि खण्डूड़ी भाजपा प्रत्याशी को कितना फायदा दिला पाती हैं।

Featured

error: Content is protected !!