उत्तराखण्ड राजनीति रुद्रप्रयाग

31 जनवरी तक राजनीतिक रैलियों और जनसभाओं पर रोक, अब 10 लोग कर सकेंगे डोर टू डोर कंपेनिंग

देशभर में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामले को देखते हुए भारत निर्वाचन आयोग ने 22 जनवरी तक सभी राजनीतिक रैलियों और जनसभाओं पर पूर्ण रूप से रोक लगा दी थी जिसके बाद 22 जनवरी को भारत निर्वाचन आयोग और स्वास्थ्य मंत्रालय की बैठक की गई। बैठक में निर्णय लिया गया कि 31 जनवरी तक सभी राजनीतिक रैलियों और जनसभाओं पूर्ण रूप से प्रतिबंधित रहेंगी। हालांकि, एक बड़ी राहत देते हुए निर्वाचन आयोग ने यह स्पष्ट कर दिया है कि अब डोर टू डोर कैंपेनिंग में पांच की जगह 10 लोग शामिल हो सकेगे।

आपको बता दें कि उत्तराखंड राज्य में 14 फरवरी को मतदान होना है जिसके नामांकन की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है। ऐसे में प्रत्याशियों के पास मात्र अगले 15 दिन ही बचे हैं जिस दौरान वह चुनावी जनसभा या रैलियां कर सकते हैं। ऐसे में 31 जनवरी को एक बार फिर निर्वाचन आयोग और स्वास्थ्य मंत्री के साथ बैठक होगी जिसमें वर्तमान स्थितियों को देखते हुए फैसला लिया जाएगा।

Featured

error: Content is protected !!