अन्य उत्तराखण्ड राजनीति

युवा नेता लूशुन टोडरिया ने थामा उक्रांद का दामन,उत्तराखंड क्रांति दल के वरिष्ठ नेता दिवाकर भट्ट की मौजूदगी में हुए शामिल

देवप्रयाग/जनपक्षीय पत्रकार और राज्य आंदोलनकारी राजेन टोडरिया जी की नौवीं पुण्यतिथि पर उनके सुपुत्र युवा आंदोलनकारी लूशुन टोडरिया जी ने क्षेत्रीय हित मे अपनी प्रतिबद्धता प्रकट करते हुए हुए उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय अध्यक्ष दिवाकर भट्ट की मौजूदगी में उत्तराखंड क्रांति दल में शामिल हुए । दिवाकर भट्ट ने कहा कि राजेन टोडरिया पहाड़ के सच्चे पुत्र थे और अंतिम साँस तक उन्होंने उत्तराखंड के हित के लिए संघर्ष करा । उनके पुत्र लूशुन टोडरिया ने उनकी विरासत को आगे ले जाते हुए क्षेत्रीय ताकत को मजबूत बनाने के लिए यूकेडी में शामिल होने का निर्णय लिया जो बताता है कि अब युवा शक्ति को क्षेत्रीय पार्टी उत्तराखंड क्रांति दल में अपना भरोसा जता रही है । लूशुन टोडरिया ने कहा कि जिस तरह से राष्ट्रीय पार्टियों ने उत्तराखंड की जनता के साथ छलावा किया है उससे जनता क्षुब्द है और अब समय आ गया है की उत्तराखंड के आम लोग कमान अपने हाथ मे ले और क्षेत्रीय दल यूकेडी को मजबूत करे । क्षेत्रफल के आधार पर परिसीमन के हक के लिए लड़ने के लिए अब क्षेत्रीय ताकतों को ही एकजुट होना पड़ेगा । दिनेश टोडरिया ने कहा की क्षेत्रहित की उनकी विचारधारा को आगे बढ़ाने के लिए हम लगातार प्रयासरत है।

 वहीं ग्राम प्रधान तुणगी अरविंद जियाल ने कहा कि राजेन टोडरिया के विचारों को आगे पीढ़ी तक पहुंचाना ही उनको सच्ची श्रदांजलि होगी । पूर्व प्रमुख जसपाल पंवार ने कहा कि राजेन टोडरिया ने कलम के माध्यम से पहाड़ के अंतिम आदमी की भी पीड़ा को जनता के सामने लाया । पौड़ी जिलाध्यक्ष यूकेडी अर्जुन नेगी ने कहा है राजेन टोडरिया के सपनों को साकार करना अब हमारी जिम्मेदारी है जिसको पूरा करने के लिए हम अंतिम साँस तक संघर्ष करेंगे । पूर्व पंडा पंचायत अध्यक्ष मुकेश प्रयागवाल ने कहा कि राजेन टोडरिया के विचारों को जीवित रखने के लिए घोषणाओं को अब धरातल में उतारना होगा । विनोद पंडित ने कहा कि राजेन टोडरिया की दूरदृष्टि ही थी जिससे उन्होंने भविष्य में होने वाले परिसीमन के खतरे को भाँप दिया और जनता को चेता दिया था । अरुण नेगी,मनोज नेगी,कमल राणा,जसपाल पंवार,,माधव कोटिवल,अशोक टोडरिया,भास्कर मिश्रा,मनोज भट्ट,वेदप्रकाश भट्ट,अमित भट्ट,विनोद पंडित, जवाहर भट्ट,आदि ने राजेन टोडरिया को पुष्पांजलि अर्पित की ।

Featured

error: Content is protected !!